अंतिम नवीनीकृत: 18 Mar 2016
print

हमारे बिजनेस

प्रभावी और विश्वसनीय ट्रांसमिशन नेटवर्क

प्रभावी और विश्वसनीय नेटवर्क से डीटीएल अबाधित विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने का प्रयास कर रही है। ट्रांसमिशन प्रणाली की उपलब्धता लगभग 98 प्रतिशत और ट्रांसमिशन की हानि लगभग एक प्रतिशत है। इसके परिणामस्वरूप, डीटीएल भारत में कुछ सर्वश्रेष्ठ रूप से संचालित राज्य ट्रांसमिशन कंपनियों में से एक है।

डीटीएल के मौजूदा नेटवर्क में दिल्ली की परिधि के चारों ओर 400 केवी का एक रिंग शामिल है, जो पूरे शहर में फैले 220 केवी के नेटवर्क से अंतर्संबंधित है। हमारे नेटवर्क के घटक नीचे दिए गए हैं –

प्रभावी और विश्वसनीय ट्रांसमिशन नेटवर्क
मानक 400 केवी स्तर 220 केवी स्तर
सब स्टेशनों की संख्या 4 33
ट्रांसफार्मेशन क्षमता (एमवीए में) 5410 10680
ट्रांसमिशन लाइन्स (सीकेटी. किलोमीटर में लंबाई) शिरोपरि – 242.614 भूमिगत – 3.248 शिरोपरि – 571.17 भूमिगत – 103.647

विगत वर्षों में विद्युत आपूर्ति की स्थिति

दिल्ली के विद्युत क्षेत्र की पुनर्संरचना के बाद, विद्युत आपूर्ति की स्थिति में काफी सुधार हुआ है। अधिकतम मांग हर वर्ष बढ रही है जबकि बिजली की कटौती घट रही है। डीटीएल ने 6 जून 2013 को 5653 मेगावाट की अब तक की सबसे अधिक मांग पूरी की है।

विगत वर्षों में विद्युत आपूर्ति की स्थिति
मानक पूरी की गई अधिकतम मांग(एमवी में) ऊर्जा खपत (एमयू में) कटौती (एमयू में) ऊर्जा खपत की प्रतिशतता के रूप में कटौती
2012-13 5642 25921 138.08 0.49
2011-12 5028 25349.23 82.983 0.32
2010-11 4720 24419 72.49 0.3
2009-10 4408 23349 185 0.8
2008-09 4034 22006 128 0.58
2007-08 4030 22372 136 0.61
2006-07 3736 21977 411 1.84
2005-06 3626 21184 322 1.5
2004-05 3490 20810 176 0.84
2003-04 3289 20385 229 1.12

वित्तीय लाभ

डीवीबी के विघटन के बाद प्रथम पांच वर्षों तक दिल्ली ट्रांसको लिमिटेड वितरण कंपनियों के लिए थोक में बिजली आपूर्ति की व्यवस्था कर रही थी, जिससे कंपनी को हानि हो रही थी। वित्त वर्ष 2007-08 से कंपनी ने हर वर्ष लाभ दर्ज किया है। दिल्ली ट्रांसको लिमिटेड राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सरकार की कुछ कंपनियों में से एक है, जो कि लाभ कमा रही है और सरकार को लाभांश का भुगतान कर रही है।

देश की दो शीर्ष रेटिंग एजेंसियों यथा क्रिसिल और फिल्च रेटिंग इंडिया कंपनी ने डीटीएल को ए+ रेटिंग कंपनी का दर्जा दिया है। यह देश की सभी राज्य ट्रांसमिशन कंपनियों में सर्वोच्च है।

वित्तीय लाभ
वर्ष 2010-11 2011-12 2012-13
कर के बाद लाभ 134.17 करोड़ 795.49 करोड़ 261.34

पर्यावरण का संरक्षण

डीटीएल अपने दायित्वों का संचालन स्वच्छ, हरित और प्रदूषण मुक्त वातावरण में करती है । यह राष्ट्रीय राजधानी को और अधिक हरित कवरेज प्रदान कर रही है। इसने पर्यावरण के अनुकूल बिजली उपकरणों का उपयोग करने के लिए आम जनता के बीच जागरूकता फैलाने में काफी योगदान किया है।

गुणवत्ता आश्वासन

एक्स्ट्रा हाई वोल्टेज नेटवर्क के प्रचालन, अनुरक्षण और मॉनीटरिंग के प्रबंधन में दिल्ली ट्रांसको को इसकी गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली के लिए मान्यता प्रदान करते हुए आईएसओ 9001: 2008 प्रदान किया गया है।

पारदर्शिता और उत्तरदायित्व

डीटीएल अपने प्रचालन सर्वाधिक पारदर्शी तरीके से प्रचालित करने के लिए प्रतिबद्ध है। कार्य सौंपने, ठेकेदारों और अन्य हितधारकों को भुगतान जारी करने के लिए एक पारदर्शी प्रणाली बनाई गई है। इसके अलावा, कोई भी नागरिक दिल्ली सूचना का अधिकार अधिनियम 2001 और सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के तहत सूचना प्राप्त कर सकता है। 

अंतिम बार अपडेट किया 16-Aug-2017

आगंतुक काउंटर:

181847